भादो का महीना

??

बीत गया  सावन  का महीना,
बोल – बम  बिन  लागें   सूना।
कदम    बढ़ाकर    धीरे – धीरे,
आ  गया  भादो  का  महीना ।

बालकृष्ण  का  जन्म  दिवस,
इसी    माह    में     आएगा ।
मटकी  फोड़ने हर कान्हा का,
अब   तो   दिल    ललचाएगा।

हरतालिका    व्रत   भी   अब,
ज्यादा   दूर   नहीं   है   भाई ।
हर    सुहागन    के    मन   में,
अभी  से ले  खुशियाँ अंगड़ाई।

लम्बोदर, गणपति, गणनायक,
इसी        माह        विराजेंगे।
ढोल – ढमाके,    झाल – म॔जीरे,
गली – गली       में      बाजेंगे।

ग्यारह  दिन  गणपति  सेवा  में,
सभी     मगन     हो     जाएँगे।
सुबह,शाम, गणपति- बप्पा  की,
आरती       सभी       सजाएंगे।

भादो     और   गणपति – बप्पा,
दोनों   साथ   में   लेंगे   बिदाई ।
कितना   पावन   है  ये   महीना,
भादो   जिसका  नाम  है  भाई ।


Poem Written by @ravi_saraogi

Pic Credit:  happyteachersdayquotes.com

About Guest Authors

News n Views is an online place for nationalists to share their opinions, information and content by way of Blogs, Videos, Statistics, or any other legal way that they feel comfortable. More Posts